मंगलवार, 6 अक्तूबर 2015

दस लोकप्रिय अंधविश्‍वास







भारत हमेशा से अंधविश्‍वासी लोगों की भूमि रही है। हर धर्म, हर संस्‍कृति और समुदाय में लोगों ने अलग-अलग अंधविश्‍वासों को जगह दे रखी है। कुछ अंधविश्‍वासों को वैज्ञानिक कारणों से जोड़कर निभाया जाता है और कुछ को पुराने रीति-रिवाज मानकर। लेकिन इन सभी मूर्खतापूर्ण अंधविश्‍वासों को लोग बड़ी श्रद्धा से निभाते है। देश में आधुनिकीकरण हो चुका है और नई पीढ़ी इन अंधविश्‍वासों से कुछ दूर दिख रही है लेकिन अभी भी कई छोटे और पिछड़े इलाकों में ये अंधविश्‍वास माने और निभाएं जाते है।  भारतीय हिंदू विवाह के 7 वचन
इस बात से खासा फर्क नहीं पड़ता है कि आप इन सभी अंधविश्‍वासों को मानते है या नहीं, लेकिन जब यही अंधविश्‍वास जी का जंजाल बन जाते है तो दिक्‍कत होती है। ऐसे ही दस भारतीय अंधविश्‍वासों के बारे में जानिए :

एक रूपया

भारतीय संस्‍कृति में एक रूपए का नोट या सिक्‍का काफी खास माना जाता है। किसी भी पावन अवसर पर एक का सिक्‍का लगाकर देना जरूरी होता है। बच्‍चे के जन्‍म से लेकर शादी के समय तक एक रूपए को बड़े नोट जैसे- 50, 100, 500 आदि के साथ लगाकर देने का रिवाज है। भारत में विषम संख्‍या में राशि देने को खराब माना जाता है।



Read more about: hindu, हिंदू

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें